Breaking News

एनएच 333 : गड्ढे में सड़क या सड़क में गड्ढा, जोखिम में जान

Gidhaur.com (बड़ी खबर) : अगर आप गिद्धौर-जमुई मुख्यमार्ग से यात्रा करने की सोच रहे हैं तो इस चित्र को देखकर सावधान हो जाइए। हैरान होने की आवश्यकता नहीं है, ये सूरत-ए-हाल गिद्धौर टावर चौक से लेकर हरनारायणपुर होते हुए कटौना तक जारी है। एक शब्द में बात रखी जाय तो इन दिनों गिद्धौर-जमुई मुख्यमार्ग गड्ढे से पटे हुए हैं। नतीजतन जर्जर हो चुकी इस सड़क ने गिद्धौर वासियों पर सितम ढाना शूरू कर दिया है, लिहाजा इस मार्ग पर घटनाएँ होना आम हो गयी है। इसके इतर निर्माण हेतु विभागीय कार्रवाई सुस्त दिख रही है।
ग्रामीणों के सहयोग से भी भरा गया गड्ढा
कुछ माह पूर्व भी इस गड्ढे ने कई बार हादसे को आमंत्रित किया है, परन्तु प्रतिनिधियों के सुस्त रवैये को देखते हुए, ग्रामीणों ने स्वयं ही इस गड्ढे को भरने का बीड़ा उठाया था। श्रमदान से कुछ दिनों तक तो लोगों की यात्रा थोड़ी आरामदायक रही, पर पुनः यह राष्ट्रीय राजमार्ग बदहाली के कगार पर है।
घटित हो चुकी है अप्रिय घटना
तकरीबन एक सप्ताह पूर्व इस गड्ढे के कारण एक ट्रक पलट गयी थी, और इसके कारण लगभग छह घन्टे तक परिचालन बाधित रहा। इतना ही नहीं आए दिन इस गड्ढे के कारण वाहनों की धीमी रफ्तार होने से कई बार गिद्धौर को जाम का मंजर देखना पड़ता है।

पानी के साथ साथ बड़े मालवाहक वाहन भी जिम्मेदार
इस सड़क की बदहाली का कारण, इस सड़क पर बहने वाले नाला का पानी और चलने वाले भारी वाहन समानरूप से जिम्मेदार हैं। इन दिनों इस मुख्यमार्ग पर ट्रकों का परिचालन बढ़ने से भी हालत खस्ताहाल हो रहा है।
दुर्गा पूजा समीप, स्थिति जस की तस
गिद्धौर की ऐतिहासिक दुर्गा पूजा अपने दरवाजे पर है। यहाँ की प्रसिद्ध मां दुर्गा के दर्शन हेतु बिहार, झारखंड एवं बंगाल का जनसैलाब उमडता है। सडक मार्ग से लेकर दुर्गा मंदिर परिसर तक घनी आबादी का मंजर देखने को मिलता है।
आज भी न जाने क्यूँ इस सड़क की स्थिति जस के तस बनी हुई है। यदि इसकी भरपाई न की गयी तो शायद स्थानीय लोगों के लिए इस बार के दुर्गा पूजा का उमंग किरकिरा हो जाएगा।

(Gidhaur.com के लिए अभिषेक कुमार झा की रिपोर्ट)
16/09/2017, शनिवार