Breaking News

सांसद निधि से गंगरा में जल्द होगा पुस्तकालय निर्माण, चिराग ने दी स्वीकृति

Gidhaur.com (न्यूज़ डेस्क) : जमुई सांसद चिराग पासवान द्वारा की गई पहल से गिद्धौर प्रखंड के गंगरा में सांसद निधि से पुस्तकालय निर्माण कराया जाएगा. इसके सन्दर्भ में अग्रेतर कार्रवाई हेतु जमुई जिला योजना पदाधिकारी एवं बिहार के कला, संस्कृति एवं युवा मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि को सांसद ने पत्र लिखकर प्राक्कलन उपलब्ध कराने को कहा है. 11 सितम्बर को निर्गत किये गए पत्रांक संख्या - 0218/CPO/VIP/2017 में सांसद श्री चिराग ने अपने सांसद निधि से 3 योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु स्वीकृति दी है. जिनमें से एक गंगरा में पुस्तकालय भवन निर्माण के सन्दर्भ में भी है.
(जमुई जिला योजना अधिकारी को सांसद द्वारा लिखा गया पत्र)

बिहार के कला, संस्कृति एवं युवा मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि को लिखे गए पत्र में जमुई सांसद चिराग पासवान ने उल्लेख किया है कि भाजपा गिद्धौर मंडल के प्रखंड महामंत्री कल्याण सिंह के द्वारा दिए गए अनुरोध पत्र में उन्होंने अवगत कराया था कि गंगरा पंचायत में पुस्तकालय न होने के कारण विद्यार्थियों एवं बुद्धिजीवी वर्ग को ज्ञानार्जन हेतु काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है. भाजपा प्रखंड महामंत्री कल्याण सिंह द्वारा लिखे गए अनुरोध पत्र में उन्होंने ने सांसद के समक्ष इस बात को भी उल्लेखित किया है कि गिद्धौर प्रखंड के गंगरा गाँव में बाबा कोकिलचंद की पिंडी है, जहाँ सालोंभर श्रद्धालुओं का आवागमन रहता है. जिसको देखते हुए उन्होंने अनुरोध किया की बाबा कोकिलचंद के मंदिर परिसर में एक पुस्तकालय भवन एवं उसमें पुस्तकों की व्यवस्था करवाई जाए.
(बिहार सरकार के कला, संस्कृति एवं युवा मंत्री को सांसद द्वारा लिखा गया पत्र)
सांसद चिराग पासवान द्वारा गंगरा गाँव में पुस्तकालय निर्माण की योजना के लिए स्वीकृति दिए जाने के बाद एनडीए कार्यकर्ताओं, युवाओं एवं ग्रामवासियों ने उनका आभार व्यक्त किया है. वहीं भाजपा गिद्धौर मंडल के प्रखंड महामंत्री कल्याण सिंह ने सांसद को धन्यवाद देते हुए कहा की यह जानकर ख़ुशी हुई की गंगरा में पुस्तकालय निर्माण की मांग जो वर्षों से की जा रही थी उसपर ध्यान देते हुए माननीय सांसद ने अपने स्तर से इस दिशा में सार्थक प्रयास किया है और कार्यकर्त्ताओं के मनोबल को बढ़ाया है. शिक्षा होगी तभी कुरीतियाँ मिटेंगी। उम्मीद है यह पुनीत कार्य बहुत जल्द पूरा होगा।

(सुशान्त साईं सुन्दरम)
गिद्धौर      |      15/09/2017, शुक्रवार
www.gidhaur.com