Breaking News

राजद की रैली : यादव परिवार में दिखा सत्ता जाने का दुःख, खूब बरसे लालू-तेज-तेजस्वी

Gidhaur.com (पटना) : यहां के गांधी मैदान में रविवार को आरजेडी की 'भाजपा भगाओ, देश बचाओ' रैली हुई। आरजेडी चीफ लालू यादव, यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव, जेडीयू नेता शरद यादव, अली अनवर, वेस्ट बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद समेत कई नेता रैली में पहुंचे। लालू ने कहा, "नीतीश कुमार का कोई उसूल और सिद्दांत नहीं है। हम वचन के पक्के हैं और गठबंधन की जीत के बाद नीतीश को सीएम बनाया था।" उन्होंने गठबंधन तोड़ने पर कहा, "ये नीतीश की आखिरी पलटी है और अब उन पर कोई भरोसा नहीं करेगा। अब लालू आएगा।"
इससे पहले पूर्व डिप्टी सीएम रहे तेजस्वी यादव ने कहा, "जिन्होंने आपको धोखा दिया है, सबको पहचान लीजिए। जुमलेबाजों-धोखेबाजों को जब तक बाहर नहीं कर दूंगा, चैन से नहीं बैठूंगा।" रैली से पहले कुछ युवाओं ने रोड पर हवाई फायर किए। इन्हें अरेस्ट कर लिया गया। बता दें कि सोनिया गांधी, राहुल गांधी और मायावती रैली में शामिल नहीं हुए।
नीतीश अब अच्छे चाचा नहीं रहे- तेजस्वी
- तेजस्वी ने कहा, "ये लड़ाई सामाजिक न्याय की है, ये लड़ाई गरीब की है, किसान की है, मजदूर की है। हम सब लोगों को एक साथ होना होगा। एकता में ही शक्ति है।"
- "मैं कसम लेता हूं, जब तक बिहार और दिल्ली की गद्दी से जुमलेबाजों और धोखेबाजों को नहीं हटाऊंगा, तब तक मैं चैन से नहीं बैठूंगा।"

- "मैं नीतीश कुमार को कल भी चाचा कहता था और आज भी कहता हूं, लेकिन अब वे अच्छे चाचा नहीं रहे। नीतीश आप लोगों की बदौलत मुख्यमंत्री बने और जनता का अपमान कर बीजेपी से हाथ मिला लिया। नीतीश भले ही महागठबंधन छोड़कर चले गए, लेकिन महागठबंधन टूटा नहीं है। असली जेडीयू शरद यादव का है। उन्हें डराया जा रहा है। हमलोग डरने वाले नहीं हैं।"
'नीतीश ने गांधी जी के विचारों को कलंकित किया'
- "नीतीश कुमार की कौन की ऐसी फाइल थी, जिसके चलते उन्हें बीजेपी के साथ जाना पड़ा। वह तो संघ मुक्त भारत बनाने की बात करते थे आज खुद बीजेपी और संघ से हाथ मिला लिया। नीतीश ने गांधी जी के विचारों को कलंकित किया है। उन्होंने गांधी के हत्यारों के सामने घुटने टेक दिए। नीतीश को इसके लिए जवाब देना होगा।"
- "हम भागलपुर गए थे तो उन्होंने धारा 144 लगा दी। ये लोग डरे हुए हैं। भ्रष्टाचारी हैं। इन्होंने बिहार का खजाना खाली किया है। बीजेपी और जेडीयू के लोगों ने सृजन घोटाला कराया। कैग ने जब 2008 में रिपोर्ट दे दी थी तो कार्रवाई क्यों नहीं हुई? तेजस्वी तो बहाना था, उन्हें सृजन का पाप छिपाना था। नीतीश कुमार ने गठबंधन तोड़कर हमलोगों की पीठ में छुरा भोंका है।"
'अमित शाह के साथ मिलकर नीतीश ने मेरे परिवार को फंसाया'
- "मुझ पर और मेरे परिवार पर केस दर्ज कराने वाले नीतीश कुमार हैं। अमित शाह के साथ मिलकर उन्होंने हमलोगों को फंसाने के लिए यह सब किया है, लेकिन हम डरने वाले नहीं हैं। हमारे भगवान श्री कृष्ण का जन्म ही जेल में हुआ था। सृजन घोटाला देश के सबसे बड़े घोटालों में से एक है। मध्यप्रदेश के व्यापमं घोटाले की तरह इस घोटाले से जुड़े दो गवाह की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। सृजन घोटाले के सबूत मिटाए जा रहे हैं।"
हाफ पैंट पहनने में नहीं आती शर्म?, तेज प्रताप का सवाल
- बिहार के पूर्व हेल्थ मिनिस्टर और लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप ने पटना रैली में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पर विवादित बयान दिया।
- तेज प्रताप ने कहा, "वे बूढ़े हो गए हैं, लेकिन हाफ पैंट पहनने में शर्म नहीं आती। उन्हें हाफ पैंट पहनने में शर्म इसलिए नहीं आती, क्योंकि उनका दिमाग हाफ है। आरएसएस के लोग देश भर में दंगा कराते हैं। बिहार में ऐसा नहीं होने देंगे। खबरदार जो बिहार में दंगा करने की कोशिश करेंगा उसे मिट्टी में मिला देंगे।'

- तेज प्रताप ने कहा, "बीजेपी के खिलाफ आज जंग कि शुरुआत हो रही है। इस जंग में मेरा छोटा भाई तेजस्वी अर्जुन बना है और मैं कृष्ण। महाभारत की तरह इस जंग की शुरुआत भी शंखनाद से होगी।"

(अनूप नारायण)
पटना    |    28/08/2017, सोमवार