Breaking News

छपरा : एनजीटी कोर्ट द्वारा रोक के बाद भी फल-फूल रहा बालू का धंधा

अहले सुबह होता है कारोबार व परिचालन बालू लदे वाहनों का
Gidhaur.com (छपरा) : एनजीटी कोर्ट द्वारा बालू के खनन,परिवहन व भंडारण पर 1 जुलाई से 30 सितंबर तक रोक के बावजूद आये दिन डोरीगंज के समीप नदी में नावों का पकड़ा जाना,जिले के विभिन्न थानों में आये दिन ट्रक व ट्रैक्टर का पकड़ा जाना डोरीगंज पुलिस व खनन विभाग की कार्यशैली पर सवाल उठा रहा है। मंगलवार की अहले सुबह डोरीगंज थानाध्यक्ष मुमताज आलम व जिला खनन पदाधिकारी द्वारा गश्ती के दौरान महाराजगंज घाट से दो नाव व दो हाइवा को तथा रहरीया घाट से दो ट्रक को जप्त कर एक ट्रक के चालक अवतार नगर थाना क्षेत्र के फुलवरीया टोला निवासी टुनु राय को गिरफ्तार किया है। जिससे यह सवाल उठना लाजमी है कि बालू के अवैध खेल में कहीं न कहीं प्रशासन या खनन विभाग की संलिप्तता है। यदि नहीं तो डोरीगंज मे सौ की संख्या मे पुलिस बल है। जिसमें डोरीगंज के सभी घाटो पर चार से पांच पुलिस बल पुर्व थानाध्यक्ष प्रशांत कुमार राय के द्वारा अवैध बालू के खनन व परिवहन को रोकने के लिए तैनात किया गया था जो आज भी तैनात है। इतना ही नहीं आरा-छपरा पुल पर भी अधिक संख्या मे पुलिस बल तैनात है। फिर कैसे बालू डोरीगंज से निकल अन्य थाना क्षेत्र में पकड़ा जाता है। स्थानीय लोगों की माने तो रात के अंधेरे में लगभग दो सौ से तीन सौ नाव प्रतिदिन सोन नदी से बालू लाद डोरीगंज के विभिन्न घाटो पर आते है और 4 बजे सुबह तक बालू अनलोड कर नावों को बांध देते हैं । स्थानीय लोग तो यहां तक कहते हैं कि थाना के तटवर्तीय क्षेत्र में कोई ब्रोकर कार्य कर रहे हैं । जो कि छापेमारी की योजना की खबर धंधेबाज तक कर देते हैं । सोमवार को दिन के उजाले मे भी बालू लदे वाहन बेरोकटोक के थाने से गुजरी। इस संबंध मे जिला खनन पदाधिकारी महेश्वर पासवान ने बताया कि बालू माफीयाओ के खिलाफ अभियान सख्ती से जारी रहेगा। गश्ती को भी तेज की जायेगी । इसके दरम्यान पकड़े जाने वाले लोगों को बख्शा नहीं जायेगा । इस संबंध मे थानाध्यक्ष मुमताज आलम ने बताया कि नदी में गश्ती की जा रही है लेकिन मात्र दो नाव ही मिला जो कि बालू उतारते हुए जप्त कर लिया गया है । अधिक मात्रा में नाव चलने की बात को गलत बताते हुए कहा कि हर घाट पर पुलिस की तैनाती आज भी है। चोरी छिपे कुछ ट्रक व ट्रैक्टर बालू लाद निकल जाते है।दिन के उजाले में बालू लदे वाहनों के परिचालन को गलत बताते हुए बोले कि ऐसी कोई ट्रक नहीं जा रही है।

(अनूप नारायण)
Gidhaur.com | 31/08/2017, गुरुवार