Breaking News

बाढ़ के पानी में डूबा दर्जनों गांव, राहत के लिए भटक रहे बाढ़ पीड़ित

Gidhaur.com (पटना) - सारण तटबंध के निकटतम गांव व तीन पंचायतो, धर्मपुर जाफर, बसंत पुर बंगला, अमनौर कल्याण के लगभग एक दर्जन गाँव बाढ़ के चपेट में आ गई है। कुआरी, बगही, परशुरामपुर, निचले भाग, गुणा छपरा, डवर छपरा, निशंक बिशुनपुर, साहपुर, गोसी अमनौर, पूर्ण रूप से बाढ़ के चपेट में आ गए है। कुआरी, परशुरामपुर, गुना छपरा, इन गाँव के प्रखंड मुख्यालय से जोड़ने वाली सड़क के ऊपर से तीन चार फीट पानी तेज गति में गिर रही है, जिससे मार्ग अवरुद्ध हो गया है। बगही नहर पुल के पास बाढ़ पीड़ित घर छोड़कर तंबू गाड़कर रह रहे है। साथ ही मवेशियों को साथ रखने को मजबूर है, पर चारा के अभाव में कई लोग आधे दाम में मवेशियों को बेच रहे है। कुछ लोग सारण तटबंध पर रह रहे है। पानी की धारा इतनी तेज है कि आस पास के गाँव को भी 24 घण्टा के अंदर अपने आगोस में लेलेगी। बाढ़ की सूचना पाकर सुबह से ही प्रशासन बाढ़ की सुधि लेने ,हेतु चक्कर लगाते दिखे, पर अभी तक किसी प्रकार का राहत नही दी गई है। ग्रामीण केले के नाव बनाकर आने जाने का संसाधन बनाए हुए है। मंगलवार से लोग बाढ़ के चपेट में है।

लोग राहत सामग्री के लिए टकटकी लगाए हुए है, पर प्रशासन को कौन कहे पंचायत के मुखिया भी आँख चुराते नजर आए। जिससे ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। बगही पुल के पास गुसाए ग्रामीण प्रदर्शन भी किया। उन्होंने नाव के साथ जल्द राहत सामग्री वितरण करने की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि इस हालत में किसी प्रकार तिरपाल खरीदकर रहने को मजबूर है। बीडीओ बैभव कुमार, सीओ मनोज श्रीवास्तव ,थानाध्यक्ष कृष्ण कुमार,ने बाढ़ क्षेत्रो का भम्रण करने के दौरान कहा कि जिला प्रशासन से चार नाव, तिरपाल व राहत सामग्री की मांग की गई है। जल्द ही शिविर लगाकर राहत सामग्री की वितरण करने की बात कही। साथ ही जन प्रतिनिधियों में अलग अलग झुण्ड में पूर्व विधायक कृष्ण कुमार सिंह मंटू, पूर्व प्रमुख सुनील राय, जिला पार्षद प्रतिनिधि पप्पू सिंह, भम्रण करते दिखे। इन्होंने बाढ़ पीड़ितों को हर तरह से सहयोग बहाल कराने  का आश्वासन दे रहे थे।
तरैया के संग्रामपुर में टूटा रिंग बाँध
एसएच 73 का बह गया पुल,आवागमन बाधित स्थिति और भयावह

तरैया प्रखण्ड के संग्रामपुर गाँव में पानी के कटाव से मंगलवार की रात्री रिंग बाँध टूट गया जिससे बाढ़ और भयावह हो गया तथा चार गाँव पूर्णतः डूब गए। भटगाई, मौलनापुर, संग्रामपुर और परौना गाँव पूर्णतः डूब गया। लोग बाढ़ की पानी मे घिर गए है। आवागमन बाधित है। घरों में पानी घुसने से बेघर हो गए है। वही तरैया-अमनौर मुख्य सड़क एसएच 73 पर भी फुटानी बाजार के समीप बना पुल तेज पानी मे बाह गया। जिससे आवागमन पूर्णतः बाधित हो गया है। फरीदपुरा, बेलहरी, पचरौर, रसीदपुर, मँझोपुर, अकुचक,आदी गाँव डूब गए है। इस गाँवो का सम्पर्क भी टूट गया। सामान्य जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। लोगो का बुरा हाल है। जिंदगियां घरों के छतों और मचानों पर सिमट गयी है। लोग परेशान है।प्रसाशन चाह कर भी लोगो तक राहत सामग्री पहुँचाने में विफल है।प्रखण्ड का प्रत्येक गाँव पानी से घिर गया है।ग्रामीण सड़क पर चार-पाँच फिट पानी बह रहा है। तो स्टेट हाइवे पर भी पानी चढ़ गया है। तरैया अमनौर स्टेट हाइवे पर पचरौर, बेलहरी, फरीदपुरा, मँझोपुर में एक-दो फिट पानी बह रहा है। जिससे लोगो की जिंदगी अस्त-व्यस्त हो गया है।


मशरक के बड़वाघाट घोघारी नदी मे उफान

मशरक प्रखण्ड क्षेत्र मे बाढ़ का पानी अत्यधिक मात्रा मे एकाएक आ जाने के कारण बुधवार को मशरक के बड़वाघाट घोघारी नदी मे उफान आ गया और यह नदी कई स्थानों पर अपने किनारे को पारकर बहने लगी है इसी नदी से जुड़ी खाढ़ी नदी जो इससें भी बिकराल रुप ले ली है घोघारी नदी और खाढ़ी नदी के जल स्तर मे अचानक हुई इस तरह की वृद्धि के कारण आरना, बाड़ोपुर, चान्दवरवा, बड़वाघाट, बाबू के छपियाँ बहरौली आदि के सामने अपने किनारे को पारकर बह रही हैं। बुधवार की दस बजे तक चान्दवरवा बाड़ोपुर बहरौली ,बाबू के छपियाँ गांव के खेतों मे बाढ़ का पानी फैल रहा था जबकि घोघारी नदी से जुड़ी खाढ़ी नदी का पानी उल्टा चान्दवरवा के चवंर की ओर तेजी से प्रवेश कर रहा हैं। जिस रफ्तार से घोघारी और खाढ़ की पानी बढ़ रहा हैं उससे यह अंदाज लगना बड़ीं मुश्किल है कि अब एक दो घंटों मे रोड पर पानी चढ़ जाने की उम्मीद लगाई जा रही हैं प्रखण्ड क्षेत्र के दुरगौली पैक्स के चारों तरफ पानी ही पानी नजर आ रही हैं वहीं पवन सिंह, श्रीभगवान सिंह, नवलाख सिंह के भी  घर मे भी पानी आ गया हैंये सभी गांव वालें बाढ़ की बढ़ती पानी अचानक आने से घबराये हुए नजर आ रहे है लोगों मे अगली बार के बाढ़ की सब संकटो का दिन याद कर सिहर जा रहे है हर जगह पर अगले बार आए बाढ़ की ही चर्चा कर मायुस हो जा रहे हैं।

(Gidhaur.com के लिए छपरा से लौट कर अनूप नारायण की खबर)
पटना    |     24/08/2017, गुरुवार